लिवर हमारे शरीर का एक ऐसा अंग है।
और हम इसे किस तरह स्वस्थ रख सकते है।
जिसके बारे में हम शायद ज्यादा नहीं सोचते हैं, बल्कि आपका जिगर आपके शरीर के पाचन तंत्र का एक महत्वपूर्ण ऑर्गन है। दवा या भोजन के साथ आप जो कुछ भी खाते या पीते हैं, वह लिवर से होकर गुजरता है।
आपको इसका सही ध्यान रखने की आवश्यकता है ताकि यह स्वस्थ रह सके और अपना काम कर सके।

मेडस्टार जार्जटाउन ट्रांसप्लांट इंस्टीट्यूट के एमडी रोहित सतोसकर कहते हैं, “यह एक ऐसा अंग है जिसे आप आसानी से ख़राब कर सकते हैं।”
यदि एक बार आपका लिवर खराब हो गया, तो यह चला गया है।
आसान शब्दों में कहें, आप दुनिया से चले जाओगे।
आपका जिगर एक फुटबॉल के आकार का है और दाईं ओर आपकी निचली पसलियों के नीचे स्थित है।
इसके लिए कई महत्वपूर्ण चीजें हैं।
यह आपके शरीर में बनने वाले हानिकारक रसायनों से छुटकारा दिलाकर आपके खून को साफ करने में मदद करता है।

यह पित्त नामक तरल बनाता है, जो आपको भोजन से वसा को तोड़ने में मदद करता है।
और यह ग्लूकोज नामक शुगर को भी स्टोर करता है, जो आपको आवश्यकता होने पर एनर्जी बूस्टर करता है।
अपने जिगर को स्वस्थ व् अच्छे आकार में रखने के बारे में कुछ ज्यादा मुश्किल नहीं है।
यदि आप नीचे गए दिए गए निर्देशों का पालन करते है तो आपको लिवर से लेकर कभी भी मुश्किलों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

लिवर को हमेशा स्वस्थ रखने के उपाय…

1- लिवर को हमेशा स्वस्थ रखने के लिए अपने बजन को बढ़ने न दें।
यदि आप मोटे या कुछ अधिक वजन वाले हैं, तो आपको फैटी लीवर होने का खतरा है,
जो कि गैर-अल्कोहल फैटी लीवर रोग (एनएएफएलडी) हो सकता है,
यह लीवर की बीमारी के सबसे तेजी से बढ़ते रूपों में से एक है।
लीवर की चर्बी को कम करने में मदद करने के लिए वजन को कम करना एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

यदि एक बार आपका लिवर खराब हो गया, तो यह चला गया है, आप दुनिया से चले जाओगे.....

2- एक संतुलित आहार खाएं।
ज्यादा केलेरी वाले भोजन को नजरअंदाज करे।
सैचुरेटेड फैट, संतृप्त वसा, परिष्कृत कार्बोहाइड्रेट (जैसे सफेद ब्रेड, सफेद चावल और नियमित पास्ता) और चीनी से बचें।
कच्चा या अधपकी शंख (shellfish) न खाएं।
अच्छी डाइट के लिए, फाइबर खाएं, जिसे आप ताजे फल, सब्जियां, साबुत अनाज ब्रेड, चावल और अनाज से प्राप्त कर सकते हैं।
मांस भी खाएं (लेकिन लाल मांस की मात्रा सीमित रखें), डेयरी (कम फैट वाला दूध और कम मात्रा में पनीर)
और फैट (“अच्छा” वसा जो मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड होते हैं,
जैसे वनस्पति तेल, नट, बीज, और मछली) ।
हाइड्रेशन जरूरी है, इसलिए ढेर सारा पानी पिएं।

3- नियमित रूप से व्यायाम करें।
जब आप लगातार व्यायाम करते हैं, तो यह फ्यूल के लिए ट्राइग्लिसराइड्स को जलाने में मदद करता है
और लिवर की फैट को भी कम करने में मदद करता है।

4- विषाक्त पदार्थों से बचें।
विषाक्त पदार्थ यकृत कोशिकाओं को घायल कर सकते हैं।
सफाई और एरोसोल उत्पादों, कीटनाशकों, रसायनों और एडिटिव्स से विषाक्त पदार्थों के साथ सीधे संपर्क को सीमित करें।
जब आप एरोसोल का उपयोग करते हैं, तो सुनिश्चित करें कि कमरा हवादार है, और मास्क अवश्य पहन कर रखे।
धूम्रपान न करें।

5- शराब का उपयोग जिम्मेदारी से करें।
कोशिश करे कि अलकोहल से दुरी बनाये रखे।
मादक पेय कई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकते हैं।
वे यकृत कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकते हैं या नष्ट कर सकते हैं और आपके जिगर को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
अपने डॉक्टर से बात करें कि आपके लिए शराब की मात्रा कितनी सही है।
आपको केवल मॉडरेशन में शराब पीने या पूरी तरह से छोड़ने की सलाह दी जा सकती है।

6- हेल्दी लिवर के लिए अजीनोमोटो से दूर रहें क्यूंकि, चाइनीज फूड में मिलाया जाने वाला मोनोसोडियम ग्लूटामेट लिवर में सूजन और कैंसर का कारण बन सकता है।
सॉफ्ट ड्रिंक्स में मौजूद बहुत ज्यादा शुगर और सेक्रीन जैसे आर्टिफीशियल स्वीटनर्स लिवर को नुकसान पहुँचाते हैं।

7- हमारे शरीर को नमक की जरूरत होती लेकिन उतनी ज्यादा नहीं जितना हम लोग खाते करते हैं।
प्रारंभिक रिसर्च से पता चलता है कि हाई सोडियम डायट से फाइब्रोसिस हो सकता है।
जो कि लिवर सिसोरिस की पहली स्टेज है।
प्रोसेस्ड फूड और मीट को कम खाएं।

लिवर को योग से करे स्वस्थ…

लिवर स्वस्थ बनाने के लिए रोजाना योग करना आवश्यक है।
किसी भी बीमारी का घरेलू उपचार में योग सबसे अच्छा उपचार माना जाता है।
योग के द्वारा हम किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते है।
इससे अपने शरीर को बहुत जल्दी ही स्वस्थ बना सकते है।
आपको अपने लीवर के लिये धनुरासन, नौकासन, कपालभाति प्राणायाम, मयूरासन, आदि योग आसनों का प्रयोग करना चाहिये।
जो आपके लिवर जल्द ही इसे स्वस्थ बनाने में मदद करेगा।

दोस्तों अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर करे।
अपने सुझाव कमेंट बॉक्स में अवश्य दे।
यदि आप किसी और विषय पर जानकारी चाहते है तो हमे अवश्य लिखे।
आपके कीमती समय के लिए धन्यवाद।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *