महान विचार महापुरुष कहते हैं कि आप सज्जन बनकर जीवन के हर क्षेत्र में सफल हो सकते हैं, क्योंकि सज्जन लोग दृढ़ स्वभाव के होते हैं। महान लोगों के प्रेरक विचारों का विशाल संग्रह, जो ना केवल आपके जीवन की दशा बल्कि दिशा, दोनों को बदलने में बहुत ही सहायक सिद्ध होंगे। महान दार्शनिकों, लेखक, विचारक और अपने जीवन को देश के प्रति समर्पित करने वाले महान लोगो के महान विचार और साथ ही महापुरुषों की महानता।
हम ऐसे ही महान लोगों के सुविचार लेकर आयें हैं जो आपकी सुसुप्त चेतना को जागृत करने में सहायक होगें।

महान लोगो के महान विचार
  • जिसके पास उम्मीद है, वह हार कर भी नहीं हारता – अज्ञात
  • श्रेष्ठ होना कोई कार्य नही बल्कि यह हमारी एक आदत है जिसे हम बार बार करते है। – अरस्तु
  • विजेता बोलते हैं कि मुझे कुछ करना चाहिए, जबकि हारने वाले बोलते हैं कि कुछ होना चाहिए – शिव खेरा
  • मैं हर कदम पर हारा हूँ, पर जन्मा केवल जीत के लिए हूँ – एमर्सन
  • बड़ा सोचो, जल्दी सोचो, आगे की सोचो क्योंकि विचारों पर किसी का एकाधिकार नहीं है – धीरुभाई अम्बानी
  • मैं कर सकता हूँ, यह विश्वाश है. केवल मैं ही कर सकता हूँ, यह अंधविश्वास है – अज्ञात
  • बिना विश्वास के कोई काम हो ही नहीं सकता – नारायणदास
  • जब तक तुम स्वयं पर विश्वाश नहीं करते, परमात्मा में विश्वास कर ही नहीं सकते – विवेकानंद
  • नीच की नम्रता अत्यंत दुखदायी है, अंकुश, धनुष, सांप और बिल्ली झुककर वार करते हैं– महर्षि वाल्मीकि
महान विचार
  • यदि दूसरों से अपने प्रतिकूल नहीं चाहते हो तो अपने मन को दूसरों के प्रतिकूल कामों से हटा लो.- अज्ञात
  • हमे हमेशा यह याद रखना चाहिए की ख़ुशी जीवन की यात्रा का एक तरीका है न की जीवन की मंजिल-रॉय गुडमैन
  • बिना उत्साह के कभी किसी उच्च लक्ष्य की प्राप्ति नहीं होती –एमर्सन
महान लोगो के महान विचार
महान विचार

महान लोगो के महान विचार और महापुरुषों की महानता..

  • विश्व के इतिहास में प्रत्येक महान और महत्वपूर्ण आंदोलन उत्साह की सफलता हैं– एमर्सन
  • यदि आप अपनी यादाश्त का परिक्षण करना चाहते है तो याद करे की आज आप एक साल पहले क्या चिंता कर रहे थे-ई. जोसेफ कॉसमैन
  • इच्छाओं के सामने आते ही सभी प्रतिज्ञाएं ताक पर धरी रह जाती हैं- अज्ञात
  • संसार में ऐसे लोग थोड़े ही होते हैं, जो कठोर किंतु हित की बात कहने वाले होते है– महर्षि वाल्मीकि
  • हम अपनी आशा के अनुसार मनुष्य के ज्ञान का न्याय करते हैं-राल्फ वाल्डो इमर्सन
  • अपने आप को खुश करने का सबसे अच्छा तरीका है, किसी और को खुश करने की कोशिश करना– मार्क ट्वेन
  • जो आदमी सच्चा कलाकार है, वह स्वार्थमय जीवन का प्रेमी हो ही नहीं सकता– प्रेमचंद
  • जो अंतर को देखता है, बाह्य को नहीं, वही सच्चा कलाकार है– महात्मा गाँधी
महान विचार
  • सुविधा और सम्मान दूसरों को देना चाहिए, लेने की कामना नहीं रखनी चाहिए – अज्ञात
  • सज्जनों का धन तो धैर्य ही है -बाणभट्ट
  • अहंकार मनुष्य का बहुत बड़ा दुश्मन है। वह सोने के हार को भी मिट्टी का बना देता है- महर्षि वाल्मीकि
  • यदि किसी युवती के दोष को जानना हों, तो उसकी सखियों में उसकी प्रशंसा करो -बेंजामिन फ्रैंकलिन
  • धैर्य तो प्रतिभा का एक आवश्यक तत्व है– डिजरायली
  • कभी कभी हमे स्वयं को बताने की यह जरूरत पड़ती है की हम दूसरों को क्या दे सकते हैं-डॉ फिल
विश्व इतिहास का सबसे क्रूर शासक
  • जितनी बार गिरो उतनी बार उठो, कभी भी हार मत मानो -कहावत
  • किसी भी मनुष्य की इच्छाशक्ति अगर उसके साथ हो तो वह कोई भी काम बड़े आसानी से कर सकता है। इच्छाशक्ति और दृढ़संकल्प मनुष्य को रंक से राजा बना सकती है– महर्षि वाल्मीकि
  • साधारण और असाधारण व्यक्ति के बीच का अंतर थोड़ा सा अतिरिक्त है यही अतिरिक्त उस व्यक्ति को असाधारण बनाता है -अज्ञात

जीवन को देश के प्रति समर्पित करने वाले महान लोगो के महान विचार…

  • कभी भी आप ऐसा ना सोचें की आप क्या कर सकते है बल्कि आप हमेशा ऐसा सोचे की आप क्या नहीं कर सकते हैं-जान वुडेन
  • दूसरे के दोष पर ध्यान देते समय हम स्वयं बहुत भले बन जाते हैं। परंतु जब हम अपने दोषों पर ध्यान देंगे, तो अपने आपको कुटिल और कमी पाएँगे– महात्मा गांधी
  • जीवन एक यात्रा है ना की दौड़, हमें हमेशा अपना जीवन अपने तरीके से जीना चाहिए क्योंकि यह जीवन सिर्फ एक ही बार मिलता है, इस अवसर को को पहचानों-अज्ञात
  • शक्ति शारीरिक क्षमता से नहीं आती, बल्कि यह एक अदम्य इच्छा शक्ति से आती है -महात्मा गांधी
  • मैंने यही सीखा है कि चाहे जो कुछ भी हो, या आज वक्त चाहे कितना भी बुरा लगता है, लेकिन जीवन हमेशा आगे बढ़ता है, और यह कल बेहतर होगा– माया एंजेलो
प्यार की शायरी 2019-20 आपके प्रिय प्रियतम के नाम
  • जो चीज विक़ार को मिटा सके,राग-द्वेष को कम कर सके, जिस चीज के उपयोग से मन सूली पर चढ़ते समय भी सत्य पर डटे रहे वही धर्म की शिक्षा है– महात्मा गांधी
  • जीवन में कोई भी कार्य कठिन नहीं होता। मन से अभ्यास करने से हर कार्य संभव हो जाता है– अज्ञात
  • माता-पिता की सेवा और उनकी आज्ञा का पालन जैसा दूसरा धर्म कोई भी नहीं है– महर्षि वाल्मीकि
  • जीवन को कभी हताश न हों, आपका जीवन वही है जहाँ से आपने शुरू किया था, और आज आप वही बन गये हैं जैसा आपने इसे बनाना चाहा– रिचर्ड एल इवांस
  • उड़ने की अपेक्षा जब हम झुकते हैं तब विवेक के ज्यादा नजदीक होते हैं- वर्ड्सवर्थ
  • प्रत्येक अनुभव से शक्ति, साहस और आत्मविश्वास मिलता है, जिससे आपके चेहरे पर डर का आना बंद हो जाता है -एलेनोर रोसवैल्ट
  • जीवन में सदैव सुख ही मिले यह बहुत दुर्लभ है– महर्षि वाल्मीकि

अतिसंघर्ष से चंदन में भी आग प्रकट हो जाती है, उसी प्रकार बहुत अवज्ञा किए जाने पर ज्ञानी के भी हृदय में भी क्रोध उपज जाता है – महर्षि वाल्मीकि

  • जिसमें दया नहीं है, वह तो जीते जी ही मुर्दे के समान है, दूसरे का भला करने से ही अपना भला होता है- अज्ञात
  • यदि आप वही करते हैं, जो आप हमेशा से करते आये हैं तो आपको वही मिलेगा, जो हमेशा से मिलता आया है -टोनी रॉबिंस
  • एक चीज़ मैंने देखी है जब आप प्यार करते है दर्द की सीमा तक तो वो दर्द नहीं रहता बस प्यार बढ़ता जाता है-मदर टेरेसा
  • वन की अग्नि चंदन की लकड़ी को भी जला देती है अर्थात दुष्ट व्यक्ति किसी का भी अहित कर सकता है– चाणक्य
महान विचार
  • हमे एक दूसरे के साथ चेहरे पर मुस्कान के साथ मिलना चाहिए क्योंकि यही से प्यार की शुरुआत होती है-मदर टेरेसा
  • निषेध से आकर्षण बढ़ता है, जिस चीज का इंकार किया जाए,उसमे एक तरह का रस पैदा होना शुरू हो जाता है-ओशो
  • केवल पढ़-लिख लेने से कोई विद्वान नहीं होता, जो सत्य, तप, ज्ञान, अहिंसा, विद्वानों के प्रति श्रद्धा और सुशीलता को धारण करता है, वही सच्चा विद्वान है- अज्ञात
  • सफलता की ख़ुशी मानना अच्छा है पर उससे ज़रूरी है अपनी असफलता से सीख लेना -बिल गेट्स
  • ग़लतियाँ हमेशा क्षमा की जा सकती हैं, यदि आपके पास उन्हें स्वीकारने का साहस हो -ब्रूस ली
मानव शरीर के बारे में ऐसे रोचक तथ्य
  • एक बेहतरीन किताब सौ अच्छे दोस्त के बराबर है, लेकिन एक सर्वश्रेष्ठ दोस्त पुस्तकालय के बराबर है- डॉ अब्दुल कलाम
  • शिक्षा सबसे अच्छा मित्र है, एक शिक्षित व्यक्ति हर जगह सम्मान पता है शिक्षा, सौंदर्य और यौवन को परास्त कर देती है -चाणक्य
  • यदि हम समाधान का हिस्सा नहीं हैं तो इसका मतलब यही है की हम खुद समस्या हैं – कहावत
  • प्राण देकर भी मित्र के प्राण की रक्षा करनी चाहिए – बाणभट्ट
  • जो काम पड़ने पर सहायक होता है, वही मित्र है– दीर्घनिकाय
  • अभागों के मित्र नहीं होते- एमर्सन
मोटिवेशनल कोट्स / प्रेरक महान विचार मातृभाषा में…
  • मित्र को प्रकृति की उत्कृष्ट कृति माना जा सकता है–अमरसन
  • लोहे के गर्म होने का इन्तजार मत करो बल्कि अपनी तपन द्वारा इसे गर्म बनाओ यानि समय का इन्तजार मत करो बल्कि ऐसी कोशिश करो की समय आपके अनुकूल हो जाये– विलियम बी स्प्रेग
  • किसी को अपना बनाने के लिए हमारी सारी खूबियां भी कम पड़ जाती हैं, जबकि किसी को खोने के लिए एक कमी ही काफी है– अज्ञात
  • मिलने पर मित्र का आदर करो, पीठ पीछे प्रशंसा करो और आवश्यकता के समय उसकी मदत करो– जातक कथा
  • सभी गलत कार्य मन से उपजते हैं। अगर मन परिवर्तित हो जाये तो क्या गलत कार्य ठहर सकता है– महात्मा बुद्ध
  • मित्रों का चुनाव सावधानी से करें क्योंकि हमारे व्यक्तित्व की झलक हमारे उन मित्रों से भी मिलती हैं जिनकी संगत से हम दूर रहते हैं– कहावत
  • अभिव्यक्ति की कुशल शक्ति ही तो कला है– मैथिलीशरण गुप्त
  • कला का सत्य जीवन की परिधि में सौंदर्य के माध्यम द्वारा व्यक्त अखंड सत्य है– महादेवी वर्मा
  • कला प्रकृति की सहायता करती है और अनुभव कला की– टामस फुलर
  • महान लोगों को हमेशा ही सामान्य मन से हिंसक विरोध का सामना करना पड़ता है -अल्बर्ट आइंस्टीन
  • पिता की सेवा अथवा उनकी आज्ञा का पालन करने से बढ़कर और कोई धर्माचरण नहीं है-वाल्मीकि
किसान को चंदन की खेती कैसे लाभदायक साबित हो सकती है
  • पिता ही महान देवता है–अज्ञात
  • हम अपने माता-पिता नहीं चुन सकते, परंतु हम माता पिता का चयन होते हैं– अज्ञात
  • पहले आपको खुद बदलना होगा, जैसा की आप दुनिया को देखना चाहते है– महात्मा गाँधी
  • चिड़चिड़ेपन को हमें हीनता की भावना का लक्षण समझना चाहिए- एल्फ्रेड एडलर
  • आप जीवन में जो कुछ भी चाहते है वे प्राप्त कर सकते है बस आप दुसरे लोगो की मदद करना शुरू कर दे– जिग जिगलर
  • कोई भी व्यक्ति तुम्हें बिना तुम्हारी सहमति के हीनता का अनुभव नहीं करा सकता– ऐना एलेना रूज़बेल्ट
जो भी आप अपने जीवन में करते हैं, एक दिन वह ज़रुर खत्म हो जायेगा लेकिन सबसे महत्वपूर्ण यह है की आप कुछ करते तो है – महात्मा गाँधी
  • देश की रक्षा राजा की सेना नहीं करती, देश की प्रजा करती है– लक्ष्मीनारायण मिश्र
  • जो आत्म अनुशासन नहीं रख सकता, वह दूसरों को अनुशासन का पाठ कैसे पढ़ा सकता है– सूत्रकृतांग
  • जो बात आप आमने सामने नहीं कर पाते, वह पत्र द्वारा आसानी से सभ्य शब्दों में कही जा सकती है– अज्ञात
  • मेरे विचार से विद्धवानो के पत्र मानव के समस्त कथनो से श्रेष्ठ हैं– फ्रांसिस बेकन
  • पत्र लिखना भी एक कला है– महात्मा गांधी
  • खत निजी अखबार है घर का- गिरिजाकुमार माथुर
  • इच्छा सभी उपलब्धियों का प्रारंभिक बिंदु है, ना कि एक आशा है, ना कि इच्छा, बल्कि एक गहरी धड़कन वाली इच्छा जो सब कुछ से परे है– नेपोलियन हिल
  • खेलो, ताकि तुम गंभीर बन सको–अनाकार्सिस
  • खेल में हम प्रकट कर देते हैं की हम किस प्रकार के लोग हैं– ओविड
  • तुम्हारा व्यव्हार ही है जो हमारी छवि दूसरों के मन में बनता है, इसके जरिये हम दुश्मनों को भी अपना बना सकते हैं– रोमन रोलां
  • देशभक्त जननी की सच्ची संतान हैं– जयशंकर प्रसाद
  • खून का वह आखिरी कतरा, जो वतन की हिफाज़त में गिरे, दुनिया की सबसे अनमोल चीज़ है– प्रेमचंद
  • प्राण क्या है देशहित के लिए, देश खोकर हम जिए तो क्या जिए– कामताप्रसाद गुरु
अनमोल वचन और महत्वपूर्ण तस्वीरें
  • जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए सामान्य चीज़ो को भी असाधारण रूप से अच्छी तरह से करना होता है– अज्ञात
  • केवल यश और नाम वाले की कोई प्रतिभा नहीं होती– यजुर्वेद
  • ईश्वर ने हमारे मष्तिष्क और व्यक्तित्व में असीमित शक्तियां और छमता दी हैं– अज्ञात
  • ईश्वर से की गई प्रार्थना इन शक्तियों को विकसित करने में मदद करती है– अब्दुल कलाम
  • परमात्मा के प्रत्येक रूप के अनुरूप अपना रूप बना लो– ऋग्वेद

लोगों के लिए उदाहरण स्थापित करना दूसरों को प्रभावित करने का एक मात्र साधन है–अल्बर्ट आइंस्टीन

  • व्यथा और वेदना की पाठशाला में जो पाठ सीखे जाते हैं, वे पुस्तकों तथा विश्वविद्यालयों में नहीं मिलते- अज्ञात
  • ईश्वरीय शक्ति के सम्मुख मानवीय शक्ति बली नहीं है– दंडी
  • सुखी व्यक्ति परिस्थितियों के अनुसार ढला हुआ नही होता है बल्कि उसके जीवन जीने का दृष्टिकोण और नजरिया अलग होता है-ह्यूग डाउन्स
  • बालकों में उत्सुकता तो ज्ञान की भूख मात्र है– जान लॉक
  • विपत्तियों में ही लोग अपनी शक्ति से परिचित होते हैं, समृद्धि में नहीं- अज्ञात
  • उत्कंठित व्यक्तियों की उत्कंठा समय की अपेक्षा करके नहीं होती– कर्णपूर

1 Comment

बुद्धिमान व्यक्ति की पहचान होती हैं ये बातें आध्यात्मिकता, संबंध और समाधान · July 13, 2020 at 8:26 pm

[…] बुद्धिमान इंसान आम लोगों से कुछ अलग होता है।आप अपने आप को इंटेलीजेंट कैसे मानेंगे ?एक बुद्धिमान व्यक्ति औरों से अपनी विशेषताएँ कैसे दर्शाता हैबड़ी खुशी होती होगी आपको जब कोई कहता है कि आप बड़े इंटेलीजेंट हैं।आखिर अपनी तारीफ सुनना किसे पसंद नहीं होता।कहते हैं बुद्धि बाज़ार में नहीं बिकती।अगर ये​ बिकने वाली चीज़ होती तो देश के इंटेलीजेंट व्यक्तियों और अमीरों की एक ही सूची होती।जीवन में सफल होने के लिए आपके अंदर बुद्धिमता का गुण होना अति आवश्यक हैं।अगर आपको अपने जीवन में सफलता प्राप्त करनी हैं तो आपको अपनी बुद्धिमता बढ़ानी होगी।जो व्यक्ति बुद्धिमान होता हैं उसके लिए कोई भी काम असंभव नहीं होता।आइये जानते हैं उन आदतों के बारे में, जो लगभग हर इंटेलीजेंट व्यक्ति के नेचर… […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *